WhatsApp यूजर्स के लिए अच्छी बुरी खबर, बंद हो सकती है फ्री कॉलिंग

आज के समय में ज्यादातर लोग WhatsApp का इस्तेमाल करते हैं. अकेले भारत की बात करें तो यहां इसके यूजर्स की संख्या 40 करोड़ से ज्यादा है।

मैसेजिंग के अलावा आपको व्हाट्सएप में कॉलिंग और वीडियो कॉल की भी सुविधा मिलती है।

लेकिन अब WhatsApp यूजर्स को इससे परेशान होना पड़ सकता है। सरकार ने भारतीय दूरसंचार विधेयक, 2022 का मसौदा तैयार कर लिया है

टेलीकॉम बिल के मुताबिक, व्हाट्सएप, स्काइप, जूम, टेलीग्राम और गूगल डुओ जैसे कॉलिंग और मैसेजिंग सर्विस ऐप को अब भारत में काम करने के लिए लाइसेंस लेना होगा।

इस बिल में ओटीटी प्लेटफॉर्म्स को भी शामिल किया गया है। विधेयक का मसौदा दूरसंचार विभाग की वेबसाइट पर सभी के लिए उपलब्ध है।

विभाग ने इस बिल के लिए उद्योग जगत से सुझाव भी मांगे हैं। अगर यह बिल पास हो जाता है तो दूरसंचार विभाग इसमें बताए गए नियमों के मुताबिक चलेगा

इस नए बिल के आने के बाद से यह कयास लगाए जा रहे हैं कि अगर व्हाट्सएप समेत इन ऐप को चलाने के लिए लाइसेंस की जरूरत है

तो लोगों को व्हाट्सएप कॉलिंग और अन्य ऐप के लिए भी फीस देनी पड़ सकती है।

हालांकि देखा जाए तो हम वॉट्सऐप या फिर किसी और ऐप के लिए वैसे भी चार्ज देते हैं।

फर्क सिर्फ इतना है कि अब हम इस चार्ज को डेटा कॉस्ट के तौर पर चुकाते हैं।

कंपनियां लाइसेंस फीस चुकाने के बाद यूजर्स से कितना चार्ज करेंगी या नहीं इस बारे में अभी कुछ नहीं कहा जा सकता है।