Whatsapp की फ्री कॉलिंग होगी खत्म! सरकार ने जारी किया बिल

व्हाट्सएप, फेसबुक, इंस्टाग्राम समेत कई ऐसे ऐप हैं। जिसमें वॉयस और वीडियो कॉलिंग बिल्कुल फ्री दी जाती है।

लेकिन अब यह सुविधा जल्द खत्म हो सकती है। केंद्र सरकार ने लोगों से फीडबैक लेने के लिए दूरसंचार विधेयक का मसौदा जारी किया है।

बिल में प्रावधान है कि व्हाट्सएप, फेसबुक के जरिए कॉल या मैसेज भेजने की सुविधा को दूरसंचार सेवा माना जाएगा।

बिल का ड्राफ्ट दूरसंचार विभाग की वेबसाइट पर सभी के लिए उपलब्ध करा दिया गया है। 

इसके साथ ही विभाग ने बिल पर उद्योग जगत से सुझाव भी मांगे हैं। इस पर 20 अक्टूबर तक राय दी जा सकती है।

वहीं अगर बिल पास हो जाता है तो दूरसंचार विभाग उसी के हिसाब से चलेगा. भारतीय दूरसंचार विधेयक, 2022 के मसौदे में कई नई चीजें शामिल की गई हैं।

दरअसल, देश की दूरसंचार कंपनियां लगातार शिकायत करती रही हैं कि व्हाट्सएप और फेसबुक जैसे प्लेटफॉर्म पर यूजर्स को मैसेजिंग और कॉलिंग सेवाएं मुहैया कराकर उन्हें नुकसान पहुंचाया जा रहा है।

ये टेलीकॉम कंपनियां कहती रही हैं कि उनकी सेवाएं टेलीकॉम सर्विस के अंतर्गत आती हैं।

ऐसे में लोगों की राय लेने के बाद बिल को संसद में पेश किया जाएगा. साइबर फ्रॉड को रोकने के लिए भी बिल में व्यवस्था की गई है।

सरकार ने इस बिल में लाइसेंस फीस को लेकर कुछ नियम भी जोड़े हैं। इसके तहत सरकार को लाइसेंस शुल्क को आंशिक या पूर्ण रूप से माफ करने का अधिकार है।

साथ ही रिफंड का भी प्रावधान किया गया है. यदि कोई दूरसंचार या इंटरनेट प्रदाता अपना लाइसेंस सरेंडर करता है।

ऐसे में उसे रिफंड मिल सकता है। बता दें कि इंस्टैंट मैसेजिंग प्लेटफॉर्म व्हाट्सएप का इस्तेमाल बड़ी संख्या में लोग करते हैं।

भारत में ही एक्टिव यूजर्स की संख्या 40 करोड़ से ज्यादा है। फिलहाल लाइसेंस फीस के बाद ही स्थिति साफ होगी कि चार्ज लगेगा या नहीं।