क्या आप भी वोकिंग के दौरान ये गलतियां करते हैं?तुरंत बंध करदे ये गलतिया

भागदौड़ भरे माहौल में आजकल लोग फिट रहने के लिए कई तरीके अपनाने लगे हैं।

कई लोग जिम ज्वॉइन करते हैं तो कई जॉगिंग या वॉक करके खुद को फिट रखने की कोशिश करते हैं।

अगर आपको घूमने का शौक है तो कुछ नियम जरूर जान लें। यदि आप ऐसा नहीं करते हैं तो आपके शरीर को लाभ की बजाय नुकसान हो सकता है

जिसका खामियाजा आपको भुगतना पड़ेगा। आइए जानते हैं वॉक से जुड़े वो नियम क्या हैं।

टहलने का पहला नियम है कि आपको किसी भी तरह का तनाव नहीं लेना चाहिए।

वॉक शुरू करते समय सकारात्मक बातें सोचें और अपने मोबाइल फोन और ईयर फोन को स्विच ऑफ रखें।

आप उसी गति से चल सकते हैं और चलते समय आने वाले समय की योजना भी बना सकते हैं।

फिटनेस के लिहाज से दिन में 45 मिनट तक टहलना अच्छा माना जाता है। यह सैर एक बार में नहीं बल्कि 2-3 किश्तों में करनी चाहिए।

लेकिन आप अपने शरीर की क्षमता और समय की उपलब्धता को देखते हुए टहलने का सही समय तय कर सकते हैं।

इसके बाद आप तय समय के अनुसार चलने लगते हैं। कुछ ही दिनों में आपकी फिटनेस नजर आने लगेगी।

जब भी आप टहलना शुरू करें तो नंगे पैर या चप्पल में न रहें। इसके बजाय अच्छी गुणवत्ता वाले स्पोर्ट्स शूज पहनकर चलें

दरअसल, चप्पल या सैंडल पहनकर चलने से आपकी एड़ी में चोट लग सकती है या पैर की उंगलियों में दर्द हो सकता है।

जबकि स्पोर्ट्स शूज में स्पंज बहुत अच्छा होता है, जो आपको इन दोनों समस्याओं से बचाता है। इसलिए जूते पहनकर चलना बुद्धिमानी माना जाता है।

चलने का एक महत्वपूर्ण नियम यह है कि आप दोनों हाथों को पैरों के साथ मिलाकर चलते हैं।