पहली बार वैज्ञानिकों ने खोजा 3 सूर्यों वाला सिस्‍टम, कभी इनकी संख्‍या 4 थी,जानिए डिटेल

हम जिस सौर मंडल में रहते हैं, वह सबसे अनोखे में से एक है।  हमारी आकाशगंगा के इस छोटे से हिस्से, मिल्की वे में जीवन मौजूद है।

यहां पृथ्वी जैसा ग्रह है, जिस पर सभी प्रजातियां जीवन देख रही हैं।  सूर्य के कारण ही यह जीवन संभव है

क्या आपने कभी ऐसे सिस्टम के बारे में सोचा है जहां एक नहीं बल्कि दो सूरज होते हैं?  खगोलविदों ने ऐसी प्रणाली की खोज की है।

हैरानी की बात यह है कि यहां एक नहीं बल्कि तीन सूर्य हैं और एक समय में इनकी संख्या 4 थी।

इस प्रणाली की खोज सबसे पहले शौकिया खगोलविदों ने की थी।  वह नासा की वेधशाला से डेटा की जांच कर रहे थे।

उन्हें लगा कि यह एक गलती है।  उन्होंने खगोलविदों को इसकी सूचना दी, जिन्होंने इसे ट्रिपल स्टार सिस्टम होने की पुष्टि की।

इस सिस्टम से जुड़ी और भी कई जानकारियां हैरान करने वाली हैं।  दरअसल, एक  दूसरे की परिक्रमा करने वाले 2 तारे इस कार्य को मात्र 24 घंटे में पूरा  करते हैं।

कोपेनहेगन विश्वविद्यालय में नील्स बोहर संस्थान के एलेजांद्रो  विग्ना-गोमेज़ ने कहा, जहां तक हम जानते हैं, यह अपनी तरह की पहली  प्रणाली है।

खास बात यह है कि इस ट्रिपल सिस्टम के तारे एक-दूसरे के बेहद करीब हैं।  यह एक कॉम्पैक्ट सिस्टम है।