अंबानी ने इस कंपनी को खरीदने के लिए अदानी से बड़ी बोली लगाई

देश के दो दिग्गज उद्योगपति मुकेश अंबानी और गौतम अडानी एक बार फिर आमने-सामने हैं.

दोनों कारोबारी कर्ज में डूबी लैंको अमरकंटक पावर को खरीदने पर जोर दे रहे हैं।

दिलचस्प बात यह है कि राज्य के स्वामित्व वाली पावर फाइनेंस कॉरपोरेशन (पीएफसी) ने भी आरईसी लिमिटेड के साथ इस कंपनी को खरीदने के लिए बोली लगाई है।

हालांकि माना जा रहा है कि इस बिजली परियोजना को खरीदने में मुकेश अंबानी की अगुवाई वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज सबसे आगे है।

बिजनेस-स्टैंडर्ड की एक रिपोर्ट के मुताबिक, रिलायंस इंडस्ट्रीज ने लैंको अमरकंटक पावर को खरीदने के लिए 1,960 करोड़ रुपये नकद देने की पेशकश की है।

अगर रिलायंस बोली जीतने में सफल होती है तो पहली बार इस कंपनी के जरिए कोयला आधारित बिजली उत्पादन के क्षेत्र में उतरेगी।

यदि अमरकंटक पावर के ऋणदाता रिलायंस के प्रस्ताव को स्वीकार करते हैं, तो यह आईबीसी कोड के तहत समूह की तीसरी बड़ी खरीद होगी।

इससे पहले रिलायंस इंडस्ट्रीज ने रिलायंस इंफ्राटेल और टेक्सटाइल कंपनी आलोक इंडस्ट्रीज को आईबीसी कोड के तहत खरीदा है

लेकिन मुकेश अंबानी का मुकाबला लैंको अमरकंटक पावर को खरीदने के लिए गौतम अडानी से है।

व्यवसायियों के नेतृत्व वाले दोनों समूह बिजली क्षेत्र में तेजी से अपने कारोबार का विस्तार कर रहे हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अडानी ग्रुप की एक कंपनी अदानी पावर ने लैंको अमरकंटक पावर को खरीदने के लिए 1,800 करोड़ रुपये की बोली लगाई है

यह राशि बांड के रूप में है, जिसे आठ प्रतिशत की ब्याज दर के साथ पांच वर्षों में चुकाया जाएगा।

वहीं, पावर फाइनेंस-आरईसी कंसोर्टियम ने 3,400 करोड़ रुपये की पेशकश की है। इस राशि को 20 साल में चुकाने का प्रस्ताव है।