खत्म हुआ इंतजार... महिंद्रा ने किया 2022 Scorpio N SUV के लॉन्च की तारीख का ऐलान 

2022 महिंद्रा स्कॉर्पियो का बेसब्री से इंतजार किया जा रहा है और अब कंपनी ने भारतीय मार्केट में SUV के लॉन्च की तारीख  

का ऐलान कर दिया है. नई SUV स्कॉर्पियो एन  नाम से 27 जून 2022 को देश में लॉन्च की जाएगी और इसके साथ मौजूदा मॉडल की  बिक्री भी जारी रहेगी.  

महिंद्रा एंड महिंद्रा ने नई जनरेशन  स्कॉर्पियो को लेकर एक और बड़ी जानकारी दी है, कंपनी ने बताया कि नई SUV  भारतीय मार्केट में 27 जून 2022 को लॉन्च की जाने वाली है. 

कंपनी नई SUV को स्कॉर्पियो एन (Mahindra  Scorpio N) नाम से लॉन्च करने वाली है और दिलचस्प ये है कि इसके मौजूदा  मॉडल की बिक्री भी स्कॉर्पियो क्लासिक  

नाम से जारी रखी जाएगी. महिंद्रा का कहना है  कि युवा और टेक सैवी यानी तकनीक पसंद करने वाले ग्राहकों के लिए इसे तैयार  किया गया है जो फुल साइज SUV चलाना पसंद 

करते हैं. कंपनी ने ये भी कहा है कि नई स्कॉर्पियो को बोल्ड डिजाइन और कमांडिंग ड्राइविंग पोजिशन के साथ पेश किया जाएगा.  

महिंद्रा ऑटोमोटिव ने 2022 स्कॉर्पियो का  टीजर जारी करते हुए उसे बिग डैडी ऑफ SUV टैगलाइन दी है. कंपनी ने नई  स्कॉर्पियो एन के साथ कई सारे नए और एडवांस्ड फीचर्स दिए हैं जो इसे मौजूदा  मॉडल के मुकाबले पूरी तरह अलग बनाते हैं. महिंद्रा एंड महिंद्र में  ऑटोमोटिव डिविजन के प्रेसिडेंट वीजय 

ने कहा, “स्कॉर्पियो महिंद्रा के लिए एक  लैंडमार्क मॉडल है जिसने इस कैटेगिरी की पहचान बनाई है और ऑटोमोबाइल  इंडस्ट्री में ये एक आइकॉनिक ब्रांड बन गई है. बिल्कुल नई स्कॉर्पियो 

एन एक बार फिर SUV सेगमेंट में एक नया  बेंचमार्क बनाएगी. नई स्कॉर्पियो के जरिए ग्राहकों को वर्ल्ड क्लास  प्रोडक्ट और बेहतरीन अनुभव मुहैया कराने का हमारा ध्येय भी पूरा होता है.”  

नई महिंद्रा स्कॉर्पियो एन के साथ पेट्रोल और  डीजल दोनों इंजन विकल्प दिए जाएंगे जिन्हें मैनुअल और ऑटोमैटिक गियरबॉक्स  से लैस किया गया है. इसके अलावा नई  

UV को 4 बाय 4 विकल्प के साथ भी पेश किया  जाएगा. 2020 और 2021 में लॉन्च हुई नई महिंद्रा थार और नई एक्सयूवी700 की  तर्ज पर 2022 स्कॉर्पियो एन के लिए 

भी ग्राहकों की जोरदार डिमांड मिलना तय माना  जा रहा है. रिपोर्ट्स की मानें तो नई स्कॉर्पियो पर लंबी वेटिंग मिलने वाली  है क्योंकि सप्लाई चेन  

और सेमीकंडक्टर चिप संकट अब तक ऑटो इंडस्ट्री  पर बना हुआ है, ऐसे में मांग के हिसाब से पूर्ती में परेशानी आने का  अनुमान भी लगाया जा रहा है.