4 से 10 जुलाई तक का समय इन बर्थडेट वालों के लिए वरदान के समान, देखें क्या आप भी हैं इस लिस्ट में शामि

ज्योतिष शास्त्र की तरह अंक ज्योतिष से भी जातक के भविष्य, स्वभाव और व्यक्तित्व का पता लगता है।

जिस तरह हर नाम के अनुसार राशि होती है उसी तरह हर नंबर के अनुसार अंक ज्योतिष में नंबर होते हैं।

अंकशास्त्र के अनुसार अपने नंबर निकालने के लिए आप अपनी जन्म तिथि, महीने और वर्ष को इकाई अंक तक जोड़ें और तब जो संख्या आएगी

वही आपका भाग्यांक होगा। उदाहरण के तौर पर महीने के 2, 11 और 20 तारीख को जन्मे लोगों का मूलांक 2 होगा।

मूलांक 1-   – किसी चिंता से मुक्ति मिल सकती है। – आपकी आर्थिक स्थिति में बदलाव हो सकते हैं।

– किसी यात्रा पर जाना पड़ सकता है  – अधिकारियों से संबंध ठीक रहेंगे। – आपकी आर्थिक स्थिति ठीक रहेगी।

मूलांक 2-   – संपत्ति के व्यापार आदि से लाभ होगा– जो चाहेंगे वही कार्य पूरा होने के योग हैं।– आपको साझेदार से फायदा होगा।

– रोजमर्रा के काम फायदा देने वाले होंगे।– पारिवारिक समस्याओं के समाधान का मौका मिलेगा।– मान सम्मान में वृद्धि होगी।

– अधिकारी प्रसन्न रहेंगे। – आपको आर्थिक लाभ होने की आशा है।– आपको कोई शुभ समाचार मिल सकता है।