कॉलर की पहचान के लिए सरकार की पहल:अब बिना ट्रू कॉलर के भी कॉल करने पर नंबर के साथ दिखेगा नाम, ट्राई लाएगा नया फीचर

अब आपको बिना ट्रू कॉलर ऐप की मदद से अनजान नंबर से आए कॉल की जानकारी मिल जाया करेगी। टेलीकॉम रेगुलेटर ट्राई एक ऐसे ही मैकेनिज्म पर काम रही     

है, जिसके जरिए किसी के फोन में आए कॉलर के नाम की जानकारी उसके सिम पर कराए गए KYC वाले नाम से पता चलेगी। 

फिलहाल कोई आपको कॉल करता है तो स्क्रीन पर सिर्फ उसका नंबर नजर आता है,  लेकिन ट्राई के इस फ्रेमवर्क के फाइनल होने के बाद आपको फोन पर यूजर का KYC   

नाम भी नजर आएगा। इस मैकेनिज्म के बाद जब भी कोई आपको फोन कॉल करेगा तो स्क्रीन पर उसका नाम फ्लैश होगा। 

यह फीचर काफी हद तक ट्रू कॉल की तरह काम करेगा। दूरसंचार विभाग ने भी ट्राई से इस पर काम शुरू करने के लिए कहा है। TRAI के चेयरमैन 

के चेयरमैन पीडी वाघेला ने बताया कि इस पर कंसल्टेशन अगले कुछ महीनों में शुरू हो सकती है। उन्होंने बताया, 'अभी हमें इस पर 

और जल्द ही हम काम शुरू कर देंगे। ट्राई पहले से इस तरह के मैकेनिज्म पर  विचार कर रही थी, लेकिन दूरसंचार विभाग से रैफरेंस मिलने की वजह से इस पर  काम जल्दी शुरू होगा। 

फेक कॉल्स से बच सकेंगे यूजर्स पीडी वाघेला ने बताया कि इस फीचर के आने के बाद फेक कॉल्स से यूजर्स बच सकेंगे। रिपोर्ट के मुताबिक, 

फ्रेमवर्क पूरा होने के बाद इस फीचर को लेकर ज्यादा चीजें क्लियर हो  पाएंगी। बता दें कि ट्रू कॉलर जैसे कॉलिंग ऐप्स इस तरह के फीचर्स मुहैया  कराते हैं, लेकिन इसमें यूजर्स के KYC पर बेस्ड नाम नजर नहीं आते हैं।  

एक्सपर्ट्स की मानें तो इस फीचर के आने से स्पैम और फ्रॉड कॉल्स के बढ़ते मामलों में कमी आएगी। 

एक्सपर्ट्स की मानें तो इस फीचर के आने से स्पैम और फ्रॉड कॉल्स के बढ़ते मामलों में कमी आएगी।