हफ्ते में 4 दिन काम और 3 दिन छुट्टी, ब्रिटेन में 70 कंपनियों ने शुरू किया ट्रायल

नई दिल्ली. कई देशों में 4 दिन काम और 3 दिन की छुट्टी का फार्मूले पर काम हो रहा है 

ऐसे में अब ब्रिटेन पूरे वेतन के साथ 4-डे वर्कवीक सिस्टम के साथ प्रयोग कर  रहा है, जिसमें विभिन्न क्षेत्रों में काम करने वाले हजारों लोगों की  भागीदारी देखी जा रही है.  

छोटा वर्कवीक सिस्टम दिसंबर तक 6 महीने के लिए कर्मचारियों की प्रोडक्टिविटी और कल्याण को मापेगा.  

लगभग 70 कंपनियां इसका हिस्सा बन गई हैं. इसमें ऑक्सफोर्ड और कैम्ब्रिज  विश्वविद्यालयों के शिक्षाविदों के साथ-साथ अमेरिका के बोस्टन कॉलेज  के एक्सपर्ट भी शामिल होंगे. 

प्रोडक्टिविटी की माप बिजनेस-टू-बिजनेस पर निर्भर week.4dayweek.co.uk के अनुसार, प्रोडक्टिविटी की माप बिजनेस-टू-बिजनेस पर बहुत अधिक निर्भर है.  

कुछ के लिए यह एक शुद्ध रेवेन्यू मीट्रिक होगा. दूसरों के लिए, यह बेची गई  प्रोडक्ट्स यूनिट की संख्या, जीते या मैनेज किए गए ग्राहकों की संख्या, या  कोई अन्य मापने योग्य सक्सेस मीट्रिक होगी. 

वैश्विक स्तर पर ट्रायल में भाग लेंगी 150 कंपनियां वैश्विक स्तर पर अमेरिका, कनाडा, ब्रिटेन, आयरलैंड, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में 7 हजार से अधिक कर्मचारियों  

और 150 कंपनियों ने 4-डे वर्कवीक के छह महीने के कॉर्डिनेटेड ट्रायल में भाग लेने के लिए साइन अप किया है.