यूजर्स का डाटा डिलीट होने के बाद भी फेसबुक स्टाफ कर सकता है एक्सेस, पूर्व कर्मचारी का आरोप

Facebook अक्सर डाटा प्राइवेसी के उल्लंघन को लेकर चर्चा में रहता है. इस बार भी ऐसा ही एक मामला सामने आया है 

दरअसल, फेसबुक के कर्मचारी, यूजर्स डाटा (Facebook Data Privacy) द्वारा डिलीट किए गए डाटा को भी एक्सेस कर सकते हैं. 

दरअसल, पूर्व कर्मचारी द्वारा दायर याचिका में बताया गया है कि कंपनी के  प्रोटोकॉल की मदद से कुछ स्टाफ मेंबर्स फेसबुक मैसेंजर पर मौजूद डाटा का  एक्सेस कर सकते हैं 

भले ही यूजर्स द्वारा उस कंटेंट को डिलीट किया जा चुका हो. शिकायत के  मुताबिक, यूरोपीय यूनियन डिजिटल प्राइवेसी रूल्स और एक फेडरस ट्रेड कमिशन  के ऑर्डर का यह उल्लंघन है. 

फेसबुक अक्सर डाटा प्राइवेसी के उल्लंघन को लेकर चर्चा में रहता है. इतना  ही नहीं, बीते साल वॉट्सऐप भी अपनी न्यू प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर चर्चा  में रहा था, जो फेसबुक का ही एक वेंचर है 

दरअसल, हाल ही में फेसबुक की कंपनी ने अपना नाम बदलकर मेटा रख लिया था,  जिसके तहत फेसबुक, इंस्टाग्राम और वॉट्सऐप जैसे ऐप्स काम करते हैं. 

भारत समेत दुनियाभर में वॉट्सऐप के करोड़ों यूजर्स हैं, जो अपने फोन में  मैसेजिंग, कॉलिंग और डाटा शेयरिंग आदि के लिए वॉट्सऐप का इस्तेमाल करते  हैं. 

इसकी जानकारी खुद कंपनी के पूर्व कर्मचारी ने शेयर की है.  

पूर्व कर्मचारी का नाम Brennan Lawson है और उन्होंने अदालत में फेसबुक की पेरेटेंल कंपनी मेटा के खिलाफ अर्जी दाखिल की है.