Chrome और Mozilla यूजर्स पर मंडरा रहा खतरा, सरकार ने जारी की चेतावनी, लापरवाही बरती तो हैकर्स...

इंटरनेट के लिए ज्यादातर लोग  Chrome और Mozilla ब्राउजर का इस्तेमाल करते हैं। अब इन ब्राउजर को यूज  करने वाले यूजर्स पर खतरा मंडरा रहा है।  

भारत सरकार की एजेंसी ने इसको  लेकर चेतावनी जारी की है। दरअसल, कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पांस टीम (CERT-In)  ने क्रोम और मोजीला के प्रोडक्ट्स को लेकर चेतावनी जारी की है।  

इनके यूजर्स पर हैकर्स का खतर  मंडरा रहा है। दरअसल, Chrome और Mozilla में कुछ खामियां पाई गई हैं, जिसकी  वजह से इन पर खतरा मंडरा रहा है। 

CERT-In ने बताया है कि क्रोम और Mozilla के कुछ प्रोडक्ट्स में खामी की वजह से हैकर्स को यूजर्स का डेटा एक्सेस मिल सकता है 

इसकी वजह से वो सभी सिक्योरिटी मैकेनिज्म को बायपास कर सकते हैं और आर्बिटरी कोड एग्जीक्यूट कर सकते हैं। 

एजेंसी ने खामियों को हाई-रिस्क मार्क किया है। इसमें क्रोम ओएस वर्जन 96.0.4664.209 से पहले के वर्जन शामिल हैं।  

इन खामियों की वजह से कंपनी ने यूजर्स को लेटेस्ट क्रोम OS वर्जन डाउनलोड करने के लिए कहा है। ऐसा करने से यूजर्स सुरक्षित रहेंगे।  

इसके अलावा सर्ट इन ने मोजीला  फायरफॉक्स iOS वर्जन 101 से पहले, Mozilla Firefox Thunderbird वर्जन 91.10  से पहले, Mozilla Firefox ESR वर्जन 91.10 से पहले, Mozilla Firefox 101  से पहले में भी खामी की चेतावनी दी है। 

बताया जा रहा है कि इन खामी की वजह से रिमोट अटैकर्स सिक्योरिटी रिस्ट्रिक्शन को बायपास कर सकते हैं

हालांकि मोजीला ने भी इसको लेकर अपडेट जारी कर दिया है।  

यूजर्स को इससे बचने के लिए  Mozilla Firefox iOS 101, Mozilla Firefox Thunderbird वर्जन 91.10,  Mozilla Firefox ESR वर्जन 91.10, and Mozilla Firefox वर्जन 101 डाउनलोड  करने की सलाह दी गई है।