मर्द इन बातों को रखें गुप्त, गलती से भी किसी के सामने इन बातों का न करें जिक्र

चाणक्य का नाम ही क्रैश हो जाएगा। यह पूरी तरह से प्रभावित है, पूरी दुनिया में पूरी तरह से प्रभावित है।

चाणक्य ने खुद को अपने जीवन में हमेशा के लिए जीवित रहने के लिए कहा।

खेलने के लिए भारत के महान नियंत्रक, पर्यावरण विज्ञान और पर्यावरण के अनुकूल नियंत्रक भी हैं।

इंसानों के अंदर रहने के लिए खुद को खराब कर लेता है। बुरा हुआ तो भी बिगड़ेगा। इससे उसकी परेशानी कम होने की बजाय फिर बढ़ जाती है।

अक्सर आपने देखा होगा कि आज के पुरुष अपनी पत्नी से छोटी-छोटी बात पर नाराज हो जाते हैं

और न केवल परिवार में बल्कि दोस्तों से भी उसे फाड़ देते हैं। यह प्रगति का पहला चरण है।

हर आदमी के जीवन में कभी भी, कोई भी ऐसा नहीं होगा या कोई भी आदमी ऐसा करेगा, वह हमेशा शैतान रहेगा।

अंश चाणक्य ने ऐसा कहा था वह महान मूर्ख। जो अपनी बात रखते हैं, व्यवस्था पर नजर रखनी चाहिए।

यह हर चेहरे के अंदर किसी व्यक्ति के लिए नहीं होता है। फिर चाहे बात उसकी नौकरी से जुड़ी हो या परिवार से।

पर्यावरण के अनुकूल काम करने के लिए, वे पर्यावरण के लिए उपयुक्त हैं। कई बार पुरुष अपनी गंदी आदतों, शराब और जुए के कारण भी अपना धन नष्ट कर देते हैं।

चाणक्य नीति के अनुसार व्यक्ति धन का रक्षक होता है। समाज में जमा हुई बर्बादी के कारण। इसलिए पैसों पर नजर रखनी चाहिए।