5G को करना होगा नए साल का इंतजार, पहले इन दस शहरों में शुरू होगी सर्विस

देश में 5G सेवाओं का आनंद लेने वाले लोगों को वर्ष 2023 तक इंतजार करना पड़ सकता है।

दूरसंचार उपकरण निर्माताओं का कहना है कि शीर्ष 10 शहरों में 5G नेटवर्क सेवाओं का पर्याप्त कवरेज होने में छह से आठ महीने लग सकते हैं।

दूरसंचार कंपनी की रणनीति के आधार पर कवरेज की राशि अलग-अलग होगी। यह इस बात पर निर्भर करेगा कि कंपनी किन शहरों पर अपना ध्यान केंद्रित करना चाहती है।

आम तौर पर कवरेज एक शहर के एक चौथाई से आधे तक भिन्न हो सकता है।

यह कंपनियों पर निर्भर करेगा कि वे अधिक कवरेज पर नजर गड़ाए हुए हैं या कम कवरेज वाले अधिक शहरों में शुरू करना चाहती हैं।

एक प्रमुख टेलीकॉम गियर निर्माता के करीबी सूत्रों का कहना है कि अनुमानित लक्ष्य शीर्ष 10 शहरों में उचित कवरेज प्रदान करना है।

इसके लिए 30 हजार टावरों पर रेडियो और उपकरण लगाने की जरूरत होगी। यह काम 6 से 8 महीने में किया जा सकता है।

सूत्रों का कहना है कि कंपनियां फिलहाल इन दस शहरों में 5जी सेवाएं शुरू करने पर ध्यान दे रही हैं

क्योंकि इन शहरों में बड़ी संख्या में 4जी ग्राहक हैं और ग्राहक 5जी सपोर्ट वाले मोबाइल फोन के लिए तैयार हैं।

इसके बाद 5G संभावित उपयोगकर्ताओं की संख्या आती है। इसका मतलब है कि वर्तमान में 2 से 24 लाख रेडियो उपकरणों की आपूर्ति करने की आवश्यकता है।

जिन टॉप 10 शहरों में टेलीकॉम कंपनियां 5G सर्विस लॉन्च करने की तैयारी कर रही हैं उनमें दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, चेन्नई, बेंगलुरु और हैदराबाद शामिल हैं।